Wednesday, 3 February 2016

Shayari on Life





बुलंदी की उडान पर हो तो , 
जरा सब्र रखो। 
परिंदे बताते हैं कि , 
आसमान में ठिकाने नही होते ।। 

No comments:

Post a Comment